Loading...
Share:

Zindagi, Aao Jeena Seekhen

AKA: ज़िंदगी, आओ जीना सीखें
Author(s): Manish Kumar Pandey
275

  • Language:
  • Hindi
  • Genre(s):
  • Poetry
  • ISBN13:
  • 9789359115405
  • ISBN10:
  • 9359115401
  • Format:
  • Paperback
  • Trim:
  • 5.5x8.5
  • Pages:
  • 131
  • Publication date:
  • 11-Sep-2023

  •   Available, Ships in 3-5 days
  •   10 Days Replacement Policy

Also available at

यह कविता संग्रह ज़िंदगी के कई पहलुओं को छूती है | इसमें हिंदी, उर्दू और अन्य बोलचाल की भाषाओं का प्रयोग किया गया है | इसमें संग्रहित कविताओं में ज़िंदगी, बचपन से उम्र दराज़ होने तक सफ़र तय करती है ! ज़िंदगी कभी माँ की लोरी में झलकती है तो कभी पिता की छत्रछाया में पनपती है | कवितायें ज़िंदगी को भरपूर जीने के लिए हार न मान, संकल्प रख सतत प्रयत्न करने को प्रेरित करती हैं | कवितायें बेटी, बहन, माँ, प्रेयसी, पत्नी अनेक रूपों से अवगत करा एक सम्पूर्ण संसार की रचना करती है | प्रेम में डूबी हुई कवितायें भाग्य, हौसला, आशा सहित एक सुखद अनुभूति प्रदान है | 

Manish Kumar Pandey

Manish Kumar Pandey

लेखक विगत 25 वर्षों से आईटी क्षेत्र में सक्रिय हैं और वर्तमान में आईटी कंपनी "इंफोसिस", भुबनेश्वर में साइबर सिक्योरिटी विभाग में वरिष्ठ निदेशक के पद पर कार्यरत हैं | लेखक साहित्य पठन, पाठन और लेखन में छात्र जीवन से ही सतत सक्रिय रहें हैं |

You may also like

Top